खबरों की समीक्षा, सच्चाई और जनहित ख़बरों के लिए Jantantra.net पर आपका स्वागत है...

Monday, 10 February 2020

गुदड़ी के लाल लोकप्रिय विधायक जगरनाथ महतो


गुदड़ी के लाल माटी पुत्र जगरनाथ महतो


जगरनाथ महतो, jagarnath mahto, education minister jharkhand, dumari vidhayak, डुमरी विधायक

जगरनाथ महतो जमीन से जुड़े हुवे नेता माने जाते हैं। वे डुमरी विधानसभा क्षेत्र से लगातार चौथी बार विधायक निर्वाचित हुवे हैं। जगरनाथ महतो जी सदैव जनता के हित के प्रति समर्पित रहते हैं। अपने क्षेत्र में टाइगर के उपनाम से जाने जाते हैं जगरनाथ महतो जी।

जगरनाथ महतो : जनहित की राजनीति

     मौजूदा समय में जब राजनीति एक प्रकार का व्यापार बन गया है। कुछ राजनेता अपने हित को सर्वोपरी मान राजनीति का चेहरा, चाल और चरित्र हीं बदलने में लगे हैं। जहाँ राजनीति सेवा का माध्यम नहीं पैसा कमाने का जरिया बनता जा रहा है जहाँ आजकल नेता जनता के हित की बाद में सोचते हैं अपना हित पहले देखते हैं वहीं कुछ ऐसे नेता भी हैं जो गरीबों, शोषितों, वंचितों, आदिवासियों और पिछड़ों के हक के लिए लड़ते रहे हैं ऐसे हीं नेताओं में से एक हैं झारखंड के डुमरी विधानसभा क्षेत्र के विधायक माटी के लाल जगरनाथ महतो। उनकी बिंदास बोल, बेबाक अंदाज, बुलंद शख्सियत और अलग स्टाइल के कारण लोग उन्हें टाइगर के उपनाम से बुलाते हैं।
जगरनाथ महतो, jagarnath mahto, education minister jharkhand, dumari vidhayak, डुमरी विधायक
एक जनसुनवाई में एक वृद्ध की समस्या सुनते हुए

जगरनाथ महतो जी का व्यक्तिगत जीवन परिचय

श्री जगरनाथ महतो जी का जन्म 01 जनवरी 1967 को झारखंड के बोकारो जिला अंतर्गत अलारगो गाँव में हुवा था। उनके पिता श्री नेमनारायण महतो एक साधारण किसान थे तथा माता श्रीमती गुंजरी देवी एक गृहणी।  जगरनाथ महतो चार भाइयों और एक बहन में सबसे बड़े हैं। उनके चार बेटियां और एक बेटा है। एक भाई वासुदेव महतो तारमी पंचायत के मुखिया हैं। माता गुंजरी देवी का निधन कुछ वर्षों पूर्व हो चुका है। प्राथमिक शिक्षा पैतृक गांव अलारगो स्थित उत्क्रमित मध्य विद्यालय से हुई है। वह 10वीं तक शिक्षा ग्रहण किये हैं। बचपन से हीं ग्रामीण परिवेश से जुड़े रहे हैं। उनका अधिकांश समय पैतृक गाँव अलारगो तथा आस-पास के क्षेत्रों में बिताते रहे हैं।

जगरनाथ महतो, jagarnath mahto, education minister jharkhand, dumari vidhayak, डुमरी विधायक


    उनको कृषि कार्यों में गहरी रुचि है। जब भी मौका मिलता है वो कृषि कार्यों में लग जाते हैं। उन्हें खेतों में हल चलाते तो कभी ट्रेक्टर से हल जोतते प्रायः देखा जाता रहा है। श्री महतो का मानना है की देश की समृद्धि के लिए कृषि तथा गाँव का विकास आवश्यक है।
जगरनाथ महतो, jagarnath mahto, education minister jharkhand, dumari vidhayak, डुमरी विधायक
अपने समर्थकों के बीच क्रिकेट खेलते हुए

    उनको खेलों के प्रति बहुत लगाव है जब भी मौका मिलता है फुटबॉल तथा क्रिकेट जरूर खेलते हैं।
जगरनाथ महतो, jagarnath mahto, education minister jharkhand, dumari vidhayak, डुमरी विधायक

    अपने विधानसभा क्षेत्र के छात्रों को इण्टर स्तर तक की शिक्षा के लिए बाहर न जाना पड़े इसके लिए उन्होंने डुमरी के मंझिलाडीह में 2017 में 'जगरनाथ महतो इण्टर कॉलेज' नाम से नया कॉलेज आरंभ किया। जगरनाथ महतो अपने राजनीति के शुरू दिनों से हीं किसानों, मजदूरों, शोषितों के हितों के प्रति समर्पित रहे हैं। हाल हीं के वर्षों में एक बार जब रेलवे द्वारा लोकल-पैसेंजर ट्रेनों में फेरी वालों को मूंगफली आदि बेचने से प्रतिबंधित किया गया तो श्री महतो खुद चंद्रपुरा जंक्सन से गोमो तक एक पैसेंजर ट्रेन में मूंगफली बेचकर फेरीवालों के अधिकारों के लिए रेलवे के प्रति अपना विरोध प्रकट किया।
जगरनाथ महतो, jagarnath mahto, education minister jharkhand, dumari vidhayak, डुमरी विधायक

जगरनाथ महतो : राजनीतिक जीवन

जगरनाथ महतो डुमरी विधानसभा सीट से झामुमो प्रत्याशी के रूप में चौथी बार(2019 में) लगातार चुनाव जीते हैं। इसके पहले वे 2005, 2009 तथा 2014 के झारखंड विधानसभा चुनाव में झारखंड के डुमरी विधानसभा सीट से हीं विधायक निर्वाचित हो चुके हैं। इसके पहले इस विधानसभा क्षेत्र से कोई भी विधायक लगातार तीन और चार बार विजय रथ पर सवार नहीं हो पाए थे। हाल हीं सम्पन्न हुवे झारखंड विधानसभा चुनाव(2019) में आजसू की यशोदा देवी को 34288 मतों से हराया। उसके बाद हेमन्त सोरेन के अगुवाई में बने नई सरकार में 28 जनवरी को उन्होंने मंत्री पद की शपथ ली है, उन्हें झारखंड सरकार में शिक्षा मंत्री का पदभार मिला है। मंत्री पद की शपथ लेकर निकलने पर मीडिया से बातचीत में उन्होंने कहा की 'मंत्री का रौब व रुतबा लोग मुझमें नहीं देखेंगे, खुद को एक सफल मंत्री के रूप में साबित करूंगा। साथ हीं उन्होंने अपने विधानसभा क्षेत्र के जनता का आभार व्यक्त किया। श्री महतो ने कहा कि सरकार की प्राथमिकताओं को पूरा करना उनका दायित्व होगा, सभी मंत्री अच्छा काम करें।
    
जगरनाथ महतो, jagarnath mahto, education minister jharkhand, dumari vidhayak, डुमरी विधायक
एक सांस्कृतिक कार्यक्रम में मांदर बजाते हुए

   झारखंड के शिक्षा मंत्री का पदभार संभालने के बाद से वे राज्य के जिलों के सरकारी स्कूलों का मूल्यांकन दौरा कर रहे हैं, इसका उद्देश्य सरकारी स्कूलों के पिछड़ेपन का कारण पता करना और लोगों को सरकारी स्कूलों में बच्चों के एडमिशन के लिए प्रोत्साहित करना है। इस दौरान वह न सिर्फ स्कूलों में जाकर बच्चों से बात कर रहे हैं बल्कि शिक्षकों से शिक्षा के सुधार के विषय में सुझाव का आदान-प्रदान कर रहे है। हाल हीं में वे गिरिडीह के पीरटांड़ प्रखंड के मांझीटाँड स्थित उत्क्रमित विद्यालय गए थे। 
जगरनाथ महतो, jagarnath mahto, education minister jharkhand, dumari vidhayak, डुमरी विधायक

जगरनाथ महतो, jagarnath mahto, education minister jharkhand, dumari vidhayak, डुमरी विधायक
एक स्कूल में बच्चों के साथ मध्याहन भोजन करते हुए

जहाँ उन्होंने न सिर्फ बच्चों के साथ बैठ कर मध्याहन भोजन ग्रहण किए बल्कि अपना थाली भी खुद धोए। इसके कुछ तस्वीर ट्विटर पर ट्वीट करते हुए उन्होंने लिखा की "गिरिडीह के माँझीटांड़ में बच्चों के साथ मध्याह्न भोजन करना अद्वितीय हर्ष है। मैं नियमित रूप से कहीं भी..किसी भी विद्यालय में मध्याह्न भोजन करूँगा।"
   

उनका स्कूलों में जाकर बच्चों के बीच जमीन में बैठना और गलती करने वाले शिक्षक को दंडित न कर लाल गुलाब देकर सुधार करने का मौका देना सुर्खियां बटोर रहा है।
जगरनाथ महतो, jagarnath mahto, education minister jharkhand, dumari vidhayak, डुमरी विधायक


महतो जी के सरकारी स्कूलों में शिक्षा की गुणवत्ता में सुधार के लिए किए जा रहे प्रयासों तथा इसके लिए उनके द्वारा उठाए गये त्वरित कदम से लगता है आने वाले दिनों में सरकारी स्कूलों के दिन फिरने वाले हैं। उम्मीद है एक शिक्षा मंत्री के रूप में वे झारखंड के युवाओं के शिक्षा तथा रोजगार के बेहतरी के लिए समुचित प्रयास करेंगे।
















0 comments: